कोयंबटूर में हुई हाथी की मौत, मुंह में मिले गहरे जख्म


कोयंबटूर . कोयंबटूर में एक नर हाथी का शव खेत में बरामद किया गया है. बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले हाथी के मुंह में घाव लगे थे, जिसके चलते उसकी मौत हो गई. इसे लेकर अधिकारियों ने आशंका जताई कि हाथी की मौत केरल (Kerala) के पलक्कड़ में गर्भवती हथिनी की मौत की तर्ज पर हुई है. खेतों में पड़े पटाखों वाले फल खाने से हाथी की जान गई है.

बता दें कि फसल बरबाद करने वाले जंगली सुअरों के लिए स्थानीय किसान खेतों में पटाखों से भरे फल रखते हैं. ऐसा ही एक फल खाने से बीते दिनों केरल (Kerala) में एक हथिनी की जान चली गई थी, जिसके बाद देश भर में लोगों ने आरोपी लोगों के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया था. जंगल विभाग के अधिकारियों को सूचना मिली कि एक कमजोर जंगली हाथी जम्बूकांडी के खेत में खड़ा है और कुछ भी खा-पी नहीं पा रहा है. फॉरेस्ट रैंजर्स की एक टीम एस सुरेश के नेतृत्व में मौके पर पहुंची. पशु चिकित्सकों ने हाथी की जांच की और उसे फलों के भीतर दवा डालकर खिलाने की कोशिश की. इसके अलावा कुछ तरल दवाइयां भी हाथी को दी गई. रविवार (Sunday) को हाथी चलने-फिरने लगी और जंगल में जा पहुंची. हाथी की मौत के बाद जब डॉक्टरों (Doctors) ने उसकी जांच की तो देखा कि उसके मुंह में गंभीर चोट लगी थी. माना जा रहा है कि विस्फोटकों से से फल खाने के बाद हाथी को यह घाव लगा था.

Please share this news