बांसवाड़ा की बेटी Miss india quintile final के लिए हुई Shortlisted

 

बांसवाड़ा में भी मौजूद हैं, फैशन इंडस्ट्री की प्रतिभाएं, मौका तो मिलें – निशी सैनी

बांसवाड़ा. फैशन इंडस्ट्री वास्तव में बुरी नहीं है, इसके माध्यम से तो प्रतिभाओं को मंच मिलता है., हमारे जिले बांसवाड़ा में भी फैशन इंडस्ट्री की कई प्रतिभाएं है परंतु प्रोत्साहन के अभाव में वे आगे नहीं आ पाती है, उन्हें मौका दिया जाना चाहिए. यह विचार व्यक्त किए हैं शहर की प्रतिभावान युवा निशी सैनी ने, जो कि राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता मिस इंडिया क्विन्सटाईल, 2019 के फाईनल के लिए शॉर्टलिस्टेड हुई है.

शहर की बाहुबली कॉलोनी निवासी निशी मिस राजस्थान में रनरअप रही हैं और अब यह राष्ट्रीय स्तर पर अपना कौशल दिखाते हुए बांसवाड़ा का नाम रोशन करने जा रही हैं. शहर के नक्षत्र मॉल सभागार में गुरुवार (Thursday) को आयोजित एक प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि बांसवाड़ा एक छोटा सा शहर है और यहां के पेरेंट्स भी नहीं चाहते कि उनकी बेटी फैशन इंडस्ट्री में जाए परंतु यह सब हमारी सोच पर निर्भर होता है. हमें अपनी सोच में बदलाव लाना होगा औ अच्छे लोगों के साथ रहकर अपने लक्ष्य को पाना के लिए प्रयास करने होंगे. उन्होंने कहा कि हमारे यहां की प्रतिभाओं को उचित मंच उपलब्ध कराया जाए तो वे राष्ट्रीय क्या, अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम रोशन कर सकती हैं. इस मौके पर निशी की मां श्रीमती पुष्पा सैनी व पिता डॉ. डी.पी. सैनी, गोकुलप्रसाद विश्वकर्मा, कृष्णा विश्वकर्मा, प्रणव पण्ड्या व बड़ी संख्या में मीडिया (Media) कर्मी मौजूद थे.

  एयरटेल ने नॉडविन गेमिंग के साथ की साझेदारी

मैगज़ीन से मिली प्रेरणा:

¬निशी ने बताया कि उनको फैशन इंडस्ट्री में जाने की प्रेरणा एक मैगजीन से मिली. ट्रेन यात्रा करते वक्त जी टाउन मैगजीन में देखे एक इंवेंट को उन्होंने रजिस्टर किया जो उसे फैशन इंडस्ट्री में अपना कौशल दिखाने का अवसर प्राप्त हुआ. इसके तहत भोपाल (Bhopal) से वीडियो ऑडिशन और फिर मिस राजस्थान के इंवेंट में उन्हें मिली सफलता ने इसे और अधिक प्रोत्साहित किया.

  लद्दाख सीमा तनाव पर पहली बार बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

इस तरह होगा मिस इंडिया कांटेस्ट:

निशी ने बताया कि मिस इंडिया क्विन्सटाईल 2019 आगामी 10 जनवरी से प्रारंभ होगा. इसमें पांच राउंड में लड़कियों की वॉकिंग, फिटनैस, डांस और मानसिक कौशल की जांच होती है जिसके अलग-अलग पांईंट होंगे. इनके आधार पर फाईनल राउंड में टॉप 15 को सिंगल क्वेचन के आधार पर चुना जाएगा. इसके बाद इसमें से टॉप फाईव को मेंटल लेवल जांचने की दृष्टि से एक प्रश्न के आधार पर चयनित किया जाएगा. इसमें टॉप को 3 लाख की पुरस्कार राशि के साथ कई सारे फोटो शूट व फोटो वॉक का उपहार मिलता है.

  सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, राज्य सरकारें देंगी प्रवासी मजदूरों का किराया और खाना

बांसवाड़ा में ही पली-बड़ी है निशी

निशी ने बताया कि वह बांसवाड़ा में ही पली बड़ी है इसलिए यहां की लड़किया आगे बढे़, इस उद्देश्य से प्रेरणारूप में फैशन इंडस्ट्री में आई है. उन्होंने बताया कि उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा सेंटपॉल स्कूल से की है वहीं ग्रेजुएशन राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय, उदयपुर (Udaipur) से तथा पोस्ट ग्रेजुएशन भोपाल (Bhopal) से किया है. वह अब भी पढ़ रही हैं, उसे पीएचडी करना था परंतु इस इवेंट के कारण उसने एक साल ड्रॉप किया है, अगले वर्ष वह पीएचडी को पूर्ण करने वाली है.

Please share this news