खाने पर बुलाकर अमानत राशि मांगने पर किया जानलेवा हमला

उदयपुर (Udaipur). शहर के हिरणमगरी थाना क्षेत्र में खाने पर बुलाकर दोस्त को दी अमानत राशि मांगने की बात को अपना अपमान मानते हुए फरियादी ने आरोपी दोनों साथियों को गिरतार किया. आज उन्हें अदालत में पेश किया जहां उन्हें एक दिन के रिमांड पर रखने के आदेश दिये.

हिरणमगरी थानाधिकारी डॉ हनवंतसिंह राजपुरोहित के अनुसार रूपनगर सेटर तीन निवासी सूर्यपाल सिंह पुत्र शेरसिंह राठौड़ ने 25 सितबर रिपोर्ट दर्ज कराई कि 24 सितबर को रात्रि वह और उसका बड़ा भाई रिपुदमनसिंह के साथ सवीना में एक होटल (Hotel) पर खाना खाने गये. भाई ने अपने एक मित्र बड़ौदा सादड़ी निवासी चक्रवर्तीसिंह पुत्र नरेन्द्रसिंह राजावत को भी खाना खाने के लिए होटल (Hotel) पर बुला लिया. इस दौरान मेरे भाई चंद्रपाल सिंह ने चक्रवर्ती को कहा कि मेरी अमानत की राशि अभी तक नहीं लौटाई है इस पर उस दौरान तो कुछ नहीं हुआ. खाना खाकर सभी घर आकर सो गये. रात करीब साढ़े तीन बजे चक्रवर्ती अपने साथी खातिया धनीराम सालासर चुरू निवासी अजयसिंह पुत्र बहादुरसिंह राठौड़, भूपेन्द्र व एक अन्य आये और उन्होंने भाई से इस बात को लेकर झगड़ा किया कि तूने मुझे खाने पर बुलाकर मेरा अपमान किया है और उन्होंने हमला कर दिया.

रिपुदमन बीच-बचाव करने के लिए आया तो आरोपियों ने उसके पेट में बीयर की बोतल मार दी और अजय ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया और मकान में रखाफर्निचर को तोडफ़ोड़ दिया. इस मामले में पुलिस (Police) ने आज बड़ोद सादड़ी निवासी चक्रवर्ती सिंह पुत्र नरेन्द्रसिंह राजावत और बालि पाली निवासी भूपेन्द्रसिंह पुत्र कल्याण सिंह चावड़ा को गिरतार किया. दोनों आरोपियों को आज मामले की जांच कर रहे एएसआई हमेरलाल ने अदालत में पेश किया जहां उन्हें 17 अटूबर तक रिमांड पर रखने के आदेश दिये. रिमांड अवधि के दौरान वारदात में उपयोग में ली बुलेट मोटर साइकिल, मोबाइल व चाकू बरामद किया जायेगा.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *