कोर सेक्टर की ग्रोथ 11 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंची


नई दिल्ली (New Delhi) . फरवरी में आठ प्रमुख उद्योगों वाले कोर सेक्टर का ग्रोथ 11 महीने के उच्चतम स्तर तक पहुंच गया है. भारत में फरवरी में आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर 5.5 फीसदी पर रही. जनवरी में कोर सेक्टर के उत्पादन में महज 2.2 फीसदी की बढ़त हुई थी. एक साल पहले की बात करें तो फरवरी 2019 में कोर सेक्टर में 2.2 फीसदी की बढ़त हुई थी.

  टिड्डियों के संभावित हमले की आशंका के मद्देनजर दिल्ली सरकार अलर्ट- गोपाल राय

रिफाइनरी उत्पादों और बिजली के उत्पादन में बढ़त से मुख्य रूप से कोर सेक्टर में अच्छी वृद्धि देखने को मिली. साल 2019 के आ‎खिरी महीने कोर सेक्टर के उत्पादन के लिहाज से बहुत खराब थे. दिसंबर में देश की अर्थव्यवस्था के लिए नकारात्मक खबर देकर गया. देश के प्रमुख आठ उद्योगों के उत्पादन में लगातार चौथे महीने गिरावट आई थी. इसके बाद जनवरी 2020 में कोर सेक्टर में 2.2 फीसदी बढ़त की खबर आई. गौरतलब है कि कोर सेक्‍टर के 8 प्रमुख उद्योग में कोयला, क्रूड, ऑयल, नेचुरल गैस, रिफाइनरी प्रोडक्ट्स, फर्टिलाइजर्स, स्टील, सीमेंट और इलेक्ट्रिसिटी आते हैं. देश के औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) में आठ कोर इंडस्ट्रीज का वेटेज 40.27 फीसदी होता है. वाणि‍ज्य एवं उद्योग मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2019-20 की पहली छमाही में इन कोर इंडस्ट्रीज का उत्पादन सुस्त ही रहा है.

Please share this news