Wednesday , 28 October 2020

भाजपा सांसद अर्जुन सिंह का एनकाउंटर करना चाहती है पुलिस


-ममता जी ऐसी किसी भी कोशिश के होंगे गंभीर परिणाम: विजयवर्गीय

नई दिल्ली (New Delhi) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. अब बीजेपी नेता और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाया है कि बैरकपुर के बीजेपी सांसद (Member of parliament) अर्जुन सिंह और उनके बेटे पवन सिंह का बंगाल पुलिस (Police) एनकाउंटर करना चाहती है. कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट करते कहा, भाजपा सांसद (Member of parliament) अर्जुन सिंह के घर को आज फिर पुलिस (Police) ने घेर लिया. आशंका है कि पुलिस (Police) उनका और उनके विधायक पुत्र पवन सिंह का एनकाउंटर करना चाहती है. अपने ट्वीट में उन्होंने कहा कि ममताजी यदि पुलिस (Police) ने ऐसी कोई कोशिश भी की तो इसके परिणाम गंभीर होंगे.’

सांसद (Member of parliament) अर्जुन सिंह ने कहा, ‘तिलमिलाई दीदी! मैं अभी नदिया जिले में बीजेपी कार्यकर्ता की शोक सभा में आया हूं, पता चला है कि मेरे घर पर फिर पुलिस (Police) पहुंची है. पुलिस (Police) किसी तरह से मेरा, भाटपाड़ा से विधायक मेरे पुत्र व अन्य परिजनों का एनकाउंटर करने के फिराक में है. दीदी, सत्ता जाने के डर से और कितना नीचे गिरेंगी? पहले टीएमसी में रह चुके बीजेपी सांसद (Member of parliament) अर्जुन सिंह हमेशा ममता सरकार (Government) पर हमला करते रहते हैं.

बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या (Murder) पर अर्जुन सिंह ने कहा था कि हर अत्याचारी शासन से आजादी पाने के लिए बलिदान देना पड़ता है और याद रहे कि बलिदान व्यर्थ नहीं जाता, रक्त के हर कतरे का हिसाब होगा. अर्जुन सिंह की गिनती टीएमसी के बड़े नेताओं होती थी. वह टीएमसी हिंदी विंग के अध्यक्ष रह चुके हैं. इसके साथ ही वह टीएमसी के टिकट पर चार बार विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) जीते चुके हैं. मार्च, 2019 में अर्जुन सिंह ने टीएमसी छोड़ दी थी और बीजेपी में शामिल हो गए थे.

Please share this news