आईसीएमआर ने कहा, एंटीबॉडी आधारित त्वरित जांच हो

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक ने कोरोना (Corona virus) संक्रमण का पता लगाने के लिए एंटीबॉडी-आधारित त्वरित रक्त जांच विधि अपनाने का परामार्श जारी किया है. महानिदेशक ने स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि वह इस परामर्श को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में प्रसारित कराएं ताकि जांच में तेजी आए. एंटीबॉडी-आधारित त्वरित रक्त जांच के नतीजे 15-30 मिनट में आ जाते हैं. आईसीएमआर ने शनिवार (Saturday) को उन क्षेत्रों में एंटीबॉडी आधारित त्वरित रक्त जांच शुरू करने का परामर्श जारी किया, जो अत्यधिक प्रभावित हैं और जहां बड़ी संख्या में प्रवासी पहुंचे हैं. आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव ने स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन को पत्र में लिखा-आरटी-पीसीआर (रियल टाइम-पोलीमरेज चेन रिएक्शन) का उपयोग कर कोविड-19 (Kovid-19) के लिए समग्र जांच बढ़ रही है, हम कोविड-19 (Kovid-19) की स्थिति के मद्देनजर उपयोग के लिए रैपिड टेस्ट किट (रक्त आधारित) के वितरण की उम्मीद कर रहे हैं.

Please share this news
  अमेरिका के शोधकर्ताओं का दावा : भारत में कोरोना संक्रमण का जोखिम बहुत ज्यादा