बजाज की क्यूट का जल्द ही बीएस 6 अवतार, होगा सीएनजी इंजन, टेस्टिंग के दौरान दिखी

नई दिल्ली (New Delhi) . देश की प्रतिष्ठित वाहन बनाने वाली कंपनी बजाज की क्यूट का जल्द बीएस 6 अवतार आने वाला है. बजाज क्यूट, देश की पहली स्ट्रीट-लीगल क्वॉड्रीसाइकल है. क्यूट का बीएस-6 वेरियंट आने से पहले बीएस6 इंजन के साथ इसका सीएनजी वेरियंट नजर आया है. बजाज क्यूट को पहली बार साल 2015 में शोकेस किया गया था. इसे साल 2019 में भारत में लॉन्च किया गया था. हालांकि, बजाज की क्वाड्रीसाइकल क्यूट का एक्सपोर्ट कई साल पहले शुरू हो गया था.

रिपोर्ट के मुताबिक, स्पाई शॉट्स से स्पष्ट है कि कार के एक्सटीरियर में कोई बड़ा बदलाव नहीं है. बीएस6 सीएनजी इंजन वाली बजाज क्यूट में बड़े हेडलैंप्स, प्रॉमिनेंट फ्रंट और रियर बंपर दिए गए हैं. बजाज की क्वॉड्रीसाइकल क्यूट में 12 इंच के टायर्स, बड़ी विंड्सस्क्रीन, ट्रेंडी टेल लाइट्स दी गई है. इसके अलावा, इंटीरियर भी पहले जैसा रहने का अनुमान है. क्यूट का बीएस4 वेरियंट 216.6सीसी सिंगल सिलिंडर, लिक्विड कूल्ड, ट्विन स्पार्क इग्निशन इंजन से पावर्ड है.

बजाज क्यूट का सीएनजी वेरियंट 10.9एचपी का मैक्सिमम पावर और 16.1 एनएम का पीक टॉर्क जेनरेट करता है. वहीं, बजाज क्यूट का पेट्रोल (Petrol) वेरियंट 13एचपी का पावर और 18.9 का पीक टॉर्क जेनरेट करता है. इंजन में 5 फॉरवर्ड और 1 रिवर्स गियर के साथ मैन्युअल गियरबॉक्स दिया गया है. बजाज की क्वॉड्रीसाइकल की टॉप स्पीड को 70 किलोमीटर प्रति घंटे तक लिमिटेड रखा गया है. इसके बीएस6 वेरियंट्स की स्पीड भी इतनी ही रह सकती है.

बजाज क्यूट कमर्शियल और प्राइवेट दोनों ही यूज के लिए अप्रूव्ड है. कंपनी का दावा है कि मोस्ट पॉप्युलर स्मॉल कार के मुकाबले बजाज क्यूट 65 फीसदी ज्यादा फ्यूल इफीशिएंट है. बजाज के टेस्टिंग नॉर्म्स के मुताबिक, क्यूट सीएनजी का माइलेज 43 किलोमीटर प्रति किलो है. वहीं, पेट्रोल (Petrol) वेरियंट का माइलेज 35 किलोमीटर प्रति लीटर है. कंपनी का दावा है कि इसका मेंटीनेंस भी बहुत अफॉर्डेबल है. बजाज क्यूट में आसानी से 4 लोग बैठ सकते हैं और फ्रंट बोनट में 20 किलोग्राम का स्टोरेज स्पेस दिया गया है. एडिशनल स्टोरेज के लिए रियर सीट्स को फोल्ड भी किया जा सकता है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *