अमेरिका ने कहा हालात ठीक नहीं हैं तोक्यो ओलिंपिक को आगे बढ़ाया जाएं


तोक्यो . अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति पर तोक्यो ओलिंपिक को स्थगित करने का दबाव लगातार बढ़ रहा है. अब अमेरिका ने भी खेलों को आगे बढ़ाने का समर्थन कर दिया है,जबकि खिलाड़ियों ने चार सप्ताह की समय सीमा की निंदा की है. बात दे कि कनाडा और ऑस्ट्रेलिया पहले ही कोविड 19 के कारण ओलिंपिक से पीछे हट चुके हैं. अब अमेरिकी ओलिंपिक समिति ने कहा है कि खेलों को स्थगित करना ही सर्वश्रेष्ठ विकल्प है.

आईओसी के एक वरिष्ठ अधिकारी डिक पाउंड ने कहा,मुझे लगता है कि आईओसी ओलिंपिक को रद्द नहीं करना चाहती और 24 जुलाई से खेल हो नहीं सकते.इसकारण स्थगित ही किए जा सकते हैं.’ आईओसी अध्यक्ष थॉमस बाक, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे, तोक्यो के गर्वनर और आयोजन समिति के प्रमुख मंगलवार (Tuesday) की रात टेलिफोन पर बात करने वाले है. अमेरिकी ओलिंपिक समिति ने 1780 अमेरिकी खिलाड़ियों के बीच कराए गए सर्वे के बाद स्थगन का समर्थन किया है. उसके 68 प्रतिशत खिलाड़ी चाहते हैं कि खेल बाद में कराए जाएं.

  मध्य रेल- रेल सुरक्षा बल सामाजिक आउटरीच के हर पहलू में फ्रंटलाइन कोरोना योद्धा

ज्यादातर ओलिंपिक क्वॉलिफायर भी नहीं हो सके हैं. अमेरिकी ओलिंपिक और पैरालिंपिक समिति ने कहा, ‘खिलाड़ियों के जवाब से सबसे अहम बात सामने आई है कि मौजूदा हालात सुधरने पर भी अभ्यास के माहौल, डोप नियंत्रण, क्वॉलिफिकेशन जैसी प्रक्रियाओं में बाधा आएगी.’ अमेरिकी जिम्नास्टिस, अमेरिकी तैराकी और ट्रैक ऐंड फील्ड पहले ही इसकी मांग कर चुके हैं.

  विशेषज्ञों का दावा, भारत में 8,000 से कम रहेगी कोरोना से मरने वालों की संख्या

इस बीच ब्रिटिश ओलिंपिक संघ के अध्यक्ष ह्यूज रॉबर्टसन ने स्काय स्पोर्ट्स से कहा कि अगर संक्रमण जारी रहा तो टीम नहीं भेजी जा सकती. इस बीच खिलाड़ियों की बात रखने वाले एक संगठन ग्लोबल ऐथलीट ने चार सप्ताह की मियाद के लिए आईओसी की आलोचना की है. इसने एक बयान में कहा, ‘यह गैर जिम्मेदाराना, अस्वीकार्य और खिलाड़ियों के हितों की अनदेखी करने वाला है.’ ब्रिटिश साइकिलिस्ट कॉलम स्किनर ने बाक पर निजी हितों को तरजीह देने का आरोप लगाया.

Please share this news