इंग्लैंड के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाएंगे : अजहर


लाहौर . पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान अजहर अली ने कहा कि कहा है कि उनकी टीम मेजबान इंग्लैंड की कमजोरियों से लाभ उठाने का प्रयास करेगी. अजहर ने कहा कि उनके गेंदबाज इंग्लैंड के शीर्ष क्रम के खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाएंगे. पाकिस्तान को इंग्लैंड दौरे पर तीन टेस्ट और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने हैं. इसका पहला टेस्ट 30 जुलाई से लॉर्ड्स में खेला जाएगा.

अजहर ने कहा, ‘अगर मेजबानों की बल्लेबाजी इकाई को देखे तो, अनुभवी एलिस्टर कुक के हटने के बाद से ही वह कुछ कमजोर हुई है. उन्होंने हाल ही में बहुत सारे संयोजनों को आजमाया और शायद थोड़ा व्यवस्थित लग रहे हैं, पर वे वास्तव में इसे लेकर उतना आश्वस्त नहीं हैं. ऐसे में यहां हमारे पास इस बार अच्छा अवसर होगा.’ सितंबर 2018 में कुक के संन्यास के बाद से, इंग्लैंड ने 18 टेस्ट में शीर्ष क्रम में छह अलग-अलग संयोजनों को आजमाया है पर केवल रोरी बर्न्स ही उसमें सफल रहे हैं.

  बायर्न म्यूनिख ने जीता जर्मन कप

अजहर ने हालांकि माना कि एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और जोफ्रा आर्चर वाले गेंदबाजी आक्रमण के साथ ही इंग्लैंड के हालातों में उनकी टीम के लिए बल्लेबाजी आसान नहीं होगी. अजहर ने कहा, ‘घरेलू हालातों में उनका गेंदबाजी आक्रमण शानदार है और इसमें किसी भी प्रकार का कोई संदेह नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘आर्चर के अलावा हमने सबका मुकाबला किया है. ब्रॉड, एंडरसन, वोक्स, स्टोक्स और कि वुड जैसे गेंदबाज के रहते भी हम जीतने में सफल रहे.’

  सफलता और विफलता से अधिक प्रभावित नहीं होता : कमिंस

अजहर ने उम्मीद जतायी कि इंग्लैंड के हालातों में उनके युवा गेंदबाजों नसीम शाह और शाहीन शाह अफरीदी को काफी सहायता मिलेगा. उन्होंने कहा, ‘मैचों की संख्या को देखे तो इस मामले के इंग्लैंड के गेंदबाजों को काफी अनुभव है लेकिन हमारे पास कौशल है और हमारे गेंदबाज सबको हैरान कर सकते है.’ पाक टीम आठ जुलाई से इंग्लैंड के खिलापफ पहला टेस्ट मैच खेलेगी.

Please share this news