Saturday , 26 September 2020

बीजेपी सांसद के बाद विधायक जयसवाल ने भी उठाए यूपी में सरकारी सिस्टम पर सवाल

बहराइच जिला अस्पताल और चित्तौरा आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना मरीजों की हो रही फजीहत

नई दिल्ली (New Delhi) . उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना से निपटने और मरीजों को बेहतर इलाज देने के लिए मुख्यमंत्री (Chief Minister) योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 का गठन किया है, लेकिन सरकारी व्यवस्थाओं को लेकर विपक्ष ही नहीं बल्कि सत्ता पक्ष के सांसद (Member of parliament) और विधायक भी सवाल उठा रहे हैं.

बीजेपी विधायक अनुपमा जयसवाल ने जिलाधिकारी को लिखे पत्र में कहा है कि बहराइच के जिला अस्पताल और चित्तौरा आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों के मास्क, सैनिटाइजर (Sanitizer) आदि व्यवस्थाओं पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. मरीजों को मिलने वाला भोजन भी खाने योग्य नहीं है. बीजेपी विधायक ने कहा कि इस संबंध में सांसद (Member of parliament) ने भी मुख्यमंत्री (Chief Minister) को पत्र लिखकर शिकायत की है. उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि इसकी जांच कराकर उचित कार्रवाई करें और मरीजों को स्वस्थ व गुणवत्तापूर्ण भोजन उपलब्ध कराएं.

इसके पूर्व बहराइच से बीजेपी सांसद (Member of parliament) अक्षयवरलाल गोंड ने भी जिला अस्पतालों में कोरोना मरीजों दिए जा रहे खाने पर अनियमितता को लेकर सवाल उठाए थे. इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री (Chief Minister) को पत्र लिखा था. सांसद (Member of parliament) ने कहा था कि कोरोना के इलाज के लिए भर्ती मरीजों को पौष्टिक आहार मिले, इसके लिए सरकार (Government) ने इंतजाम किए हैं. इसके बावजूद चित्तौरा ब्लॉक में बने एलवन हॉस्पिटल और जिला अस्पताल में बने आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती मरीजों को घटिया स्तर का भोजन दिया जा रहा है. सांसद (Member of parliament) ने कहा कि कई बार लोगों की शिकायतें आईं तो सीएमओ से बात की गई. इसके बावजूद भी कोरोना मरीजों को बेहतर सुविधा मुहैया नहीं हो पा रही है.

Please share this news