आगरा में एक नाबालिग छात्रा ने लगाई फांसी, कमरे से देसी तमंचा और सूइसाइड नोट बरामद


आगरा (Agra) . उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा (Agra) में एक 16 साल की छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Murder) कर ली. बताया गया कि छात्रा ने आत्‍महत्‍या करने से पहले एक वीडियो बनाया था, जो सोशल मीडिया (Media) पर वायरल हो रहा है. इसके साथ ही छात्रा ने चार पन्ने का सूइसाइड नोट भी छोड़ा है. मामले की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस (Police) ने छात्रा के कमरे से देसी तमंचा और सूइसाइड नोट बरामद कर लिया है. वीडियो में उसने आरोप लगाया है कि उसके चाचा ने उसे तमाचा मारा और उसके ऊपर दबाव बनाया कि वह अपनी मां और भाई बहनों को गोली मारे.

  चीन को चुनौती रक्षाबंधन के लिए बना रहे एक लाख राखियां

उन्होंने उसे मां और भाई-बहनों को मारने के लिए तमंचा भी दिया, जिससे उसने खुद को गोली मार ली. छात्रा ने वीडियो में आरोप लगाया कि उसके पिता, दो चाचा और एक चचेरे भाई ने मारपीट की और उसकी मां, दो भाई-बहनों को मानसिक रूप से प्रताड़ित भी किया. फिलहाल पुलिस (Police) ने उसके पिता को आत्महत्या (Murder) के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया है, जबकि बाकी आरोपी फरार हैं. छात्रा ने सूइसाइड नोट में लिखा था कि ‘मैं जीना चाहती थी. एक पुलिस (Police) अधिकारी बनना चाहती थी ताकि अपनी मां और भाई-बहनों को न्याय दिला सकूं. अब मैं अपना जीवन समाप्त कर रही हूं, क्योंकि मैं अब थक गई हूं. हम चारों मानसिक रूप से प्रताड़ित हैं. मेरे पिता, दो चाचा और चचेरे भाई संपत्ति के लालच में हम लोगों को रोज प्रताड़ित करते हैं.’

  घरेलू कामगारों की अहमियत कब समझेंगे हम?

छात्रा ने यह भी आरोप लगाया, ‘मेरी मां से शादी करने से पहले मेरे पिता ने अपनी पहली पत्नी और उसके चार बच्चों की हत्या (Murder) कर दी थी. जब उन्होंने अपनी पहली पत्नी की हत्या (Murder) की, तब वह गर्भवती थीं. मेरे चाचा जेल भी जा चुकी हैं. उन्होंने मेरे साथ छेड़छाड़ की और गलत काम किया. मेरी मौत के बाद उन सभी को कड़ी सजा दी जानी चाहिए.’ सदर एसएचओ कमलेश कुमार सिंह ने कहा कि हम लड़की द्वारा आत्महत्या (Murder) से पहले लगाए गए सभी आरोपों की जांच कर रहे हैं.

Please share this news