कर्नाटक में 47 बकरियां को किया गया क्वारंटीन


बेंगलुरु (Bengaluru) . कर्नाटक (Karnataka) में एक चरवाहे के कोरोना (Corona virus) से संक्रमित पाए जाने के बाद उसकी 47 बकरियों को क्वारंटीन किया गया है. इस बारे में पशुपालन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि गौरलहट्टी तालुका में लगभग 300 घर हैं. यहां की आबादी लगभग 1000 है. यहां पर चरवाहे को मिलाकर दो गांववाले कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं. इसी के साथ ही चार बकरियों की संदिग्ध मौत के बाद गांववाले दहशत में आ गए. ग्रामीणों ने बताया कि कुछ बकरियों को सांस की समस्या है.

  काेर्ट की अवमानना झेल रहे प्रशांत भूषण ने इस कानून को ही सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

जिला पशु अधिकारी गांव पहुंचे और बकरियों को गांव के बाहर क्वारंटीन करवाया. बकरियों के स्वाब की सैंपलिंग की गई. अधिकारी ने कहा कि पशुओं से एकत्र किए गए नमूनों को पशु स्वास्थ्य और एवं पशु चिकित्सा संस्थान भोपाल (Bhopal) में भेजा गया. वहीं पशुपालन विभाग के सचिव पी मनीवन्नन ने बताया कि उनकी संज्ञान में मामला है. वहीं, मृत बकरियों का पोस्टमॉर्टम कराया गया है.

  डॉक्टर, वकील, सीए भी लोन गारंटी स्कीम का लाभ ले सकेंगे

बकरियों से सैंपल इंस्टिट्यूट ऑफ ऐनिमल हेलथ ऐंड वेटेनरी बायलॉजिकल्स बेंगलुरु (Bengaluru) भेजे गए हैं. आईएएचव्‍हीबी के निदेशक डॉ. एसएम बायरेगौड़ा ने बताया कि अभी तक ऐसा कोई केस सामने नहीं आया है कि इंसानों से जानवरों में कोरोना (Corona virus) फैला हो. फिलहाल सभी को सैंपल भोपाल (Bhopal) भेजे गए हैं क्योंकि हमारे पास जांच किट नहीं है. प्रफेसर डॉ. बीएल चिदानंद ने बताया कि कोरोना (Corona virus) जैसे जूनोटिक वायरस सामान्यता जानवरों से इंसानों में फैलते हैं न कि इंसानों से जानवरों में.

Please share this news