Friday , 25 September 2020

100 लोगों का हत्यारा डॉक्टर डेथ गिरफ्तार, 100 लोगों की हत्या करने के बाद गिनती करना बंद किया


नई दिल्ली (New Delhi) . पुलिस (Police) की अपराध शाखा की नारकोटिक्स सेल ने दुर्दांत हत्या (Murder) रे डॉ. देवेंद्र शर्मा को बापरौला से गिरफ्तार किया है. वह दावा करता है कि अब तक 100 से ज्यादा ट्रक ड्राइवरों और टैक्सी चालकों की हत्या (Murder) कर चुका है और 100 कत्ल के बाद उसने गिनती करना छोड़ दिया. पुलिस (Police) ने उसे डॉक्टर (doctor) डेथ, सीरियल किलर और हरियाणा (Haryana) का सबसे बड़ा जल्लाद नाम दिया है. वह कई राज्यों में फैले किडनी रैकेट से भी जुड़ा था. वह करीब 125 लोगों की किडनी अवैध रूप से निकालकर ट्रांसप्लांट कर चुका है.

राजस्थान (Rajasthan) की जयपुर (jaipur) पुलिस (Police) को इसकी पैरोल जंपिंग मामले में तलाश थी. अपराध शाखा के डीसीपी डॉ. राकेश पावरिया के अनुसार, नारकोटिक्स सेल के इंस्पेक्टर राममनोहर को 28 जुलाई को सूचना मिली कि हत्या (Murder) में उम्रकैद काट रहा सीरियल किलर देवेंद्र कुमार शर्मा जनवरी 2020 में पैरोल जंप कर गया था और दिल्ली के बापरौला में छिपकर रह रहा है. उनकी देखरेख में एसआई श्याम बिहारी सरन, हवलदार अशोक नागर, संजय, सिपाही सुमित व सुनील की टीम ने डॉ. देवेंद्र कुमार शर्मा (62) को गिरफ्तार कर लिया.

विधवा से की शादी

पुलिस (Police) के मुताबिक, एक विधवा से शादी कर वह यहां छिपकर रह रहा था. इसने पुलिस (Police) को गुमराह करने की कोशिश की. दिल्ली पुलिस (Police) ने जयपुर (jaipur) पुलिस (Police) सें संपर्क साधा और इसके बारे में जानकारी ली तो उसने सच उगल दिया. जयपुर (jaipur) पुलिस (Police) को इसकी सूचना दे दी गई है. डॉ. देवेंद्र शर्मा की डिग्री बीएएमएस है, मगर वह किडनी निकालने व ट्रांसप्लॉट करने के लिए सर्जरी करता था. जयपुर (jaipur) पुलिस (Police) सीरियल किलर को लेने दिल्ली आएगी.

मगरमच्छों वाली नहर में फेंकता था शव

वह ट्रक ड्राइवरों की हत्या (Murder) कर उनके शव को कासगंज स्थित हजारा नहर में मगरमच्छों के लिए फेंक देता था ताकि कोई सबूत न मिले. गाडिय़ों को कासगंज में बेच देता था या फिर मेरठ (Meerut) में कटवा देता था. एक टैक्सी के बिकने या कटने पर डॉक्टर (doctor) को 20 से 25 हजार रुपए मिलते थे.

Please share this news