सुशासन पर पांच-दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण मॉड्यूल पेश करेगी बीजेपी


नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय जनता पार्टी समर्थित थिंक टैंक, पब्लिक पॉलिसी रिसर्च सेंटर 30 मई को कार्यालय में पार्टी के एक वर्ष को चिह्नित करने के लिए सुशासन पर पांच-दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण मॉड्यूल की पेशकश करेगा. कोरोना महामारी (Epidemic) का मुकाबला करने के लिए सरकार (Government) द्वारा किए जा रहे मौजूदा प्रयास में टेक्नोलॉजी का उपयोग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भरता के आह्वान को पार्टी द्वारा वर्ष के दौरान उपलब्धियों के रूप में प्रदर्शित किया जा रहा है.

  फैशन से अधिक सुविधा और सुरक्षा पर ध्यान दें : उपराष्ट्रपति

भाजपा मई 2019 में 303 लोकसभा (Lok Sabha) सदस्यों के अभूतपूर्व बहुमत के साथ केंद्र में सत्ता में आई. हालांकि पार्टी के पास जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने जैसी उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए बहुत कुछ है. अयोध्या में राम मंदिर (Ram Temple) पर फैसला, सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) द्वारा ट्रिपल तालक पर प्रतिबंध कोरोना महामारी (Epidemic) ने कामों में अड़चन डाल दी है. बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पीपीआरसी के मानद निदेशक विनय सहस्रबुद्धे ने ऑनलाइन कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि मोदी सरकार (Government) ने 2014 में पहली बार सत्ता में आने के बाद सुशासन की पेशकश की है.

  आखिरी सेमेस्टर की परीक्षाएं रद्द कर छात्रों का भविष्य बचाएं - केजरीवाल का पीएम को पत्र

उसकी योजनाओं के कुशल निष्पादन और इस प्रभाव के लिए प्रौद्योगिकी के उपयोग ने 2019 में सत्ता में वापसी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. भाजपा उपाध्यक्ष एवं सांसद (Member of parliament) विनय सहस्रबुद्धे ने कहा कि यह पाठ्यकम सभी के लिये खुला होगा और दलगत भावना से ऊपर होगा. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि इसका लक्ष्य ‘‘सुशासन साक्षरता’’ बढ़ाना है. सहस्रबुद्धे पब्लिक पॉलिसी रिसर्च सेंटर (पीपीआरसी) के प्रमुख भी हैं.

Please share this news