सावन माह शनिवार से, शिवालयों में होगी पूजा-अर्चना

जोधपुर, 24 जुलाई (उदयपुर (Udaipur) किरण). प्रकृति की अनुपम छटा बिखरने वाले व भगवान शिव को प्रिय सावन मास की शुरुआत इस बार 18 दिन बाद होगी. अधिक मास के चलते इस बार देरी से शुरू होने वाला सावन 28 जुलाई से शुरू होगा. जिसमें चार सावन सोमवार (Monday) रहेंगे.

शहर सहित ग्रामीण प्रकृति का लुत्फ लेने के साथ ही शिव की आराधना में लीन नजर आएंगे. जानकारों के मुताबिक तिथियों की घटत-बढ़त के कारण बढ़े हुए एक माह का समायोजन अधिकमास के रूप में किया जाता है. ऐसे में अधिकमास के बाद आने वाले सभी व्रत-त्योहार गत वर्ष की अपेक्षा में कुछ दिन बाद आएंगे. अधिकमास के कारण इस बार सावन मास भी 18 दिन बाद 28 जुलाई से शुरू होगा. जबकि गत वर्ष सावन मास 10 जुलाई से शुरू हो गया था. वहीं गत वर्ष 7 अगस्त को सावन मास पूर्ण होने पर 29 दिन का सावन मास रहा था.

  राजस्थान यूनिवर्सिटी ने कुलपति के आवेदन मांगे

अगस्त में हरियाली अमावस :11 अगस्त को हरियाली अमावस की धूम रहेगी. हरियाली अमावस भी शनिवार (Saturday) को है. जिसके कारण शनि मन्दिरों में भी भक्तों की भीड़ रहेगी. 14 अगस्त को सावन की तीज का पर्व होगा. इस दिन कुंवारी, नवविवाहिता व विवाहित महिलाओं में उत्साह रहेगा. कन्याओं के लिए यह दिन सिंजारा के नाम होगा. वहीं नवविवाहिताओं के लिए पहला सावन होने के चलते यह दिन अपने पीहर में ही मनाने की उत्सुकता रहेगी. 15 अगस्त को स्वतन्त्रता दिवस तथा नाग पंचमी भी है.

Please share this news