सरकार के नेता, विधायक, मंत्री बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था को अविश्वसनीय करार दे रहे हैं : शिवानंद तिवारी


पटना (Patna) . राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा है कि बिहार (Bihar)की स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रतिपक्ष ही नहीं सवाल उठा रहा है, सरकार (Government) के नेता, विधायक, मंत्री तथा वरिष्‍ठ पदाधिकारी, सब बिहार (Bihar)की स्वास्थ्य व्यवस्था को अविश्वसनीय करार दे रहे हैं.

उन्होंने एक बयान जारी कर कहा ‘ हम सरकार (Government) तथा स्वास्थ्य मंत्री जी से जानना चाहते हैं कि अगर बिहार (Bihar)की स्वास्थ्य व्यवस्था इतनी मजबूत, कुशल और सक्षम है तो ताकतवर और रसूखदार लोग अपने संक्रमण का इलाज करने के लिए सरकारी अस्पतालों में दाखिल क्यों नहीं हो रहे हैं? नालंदा अस्पताल तो कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए सरकार (Government) द्वारा नामित है.

  भांगड़ा की ऑनलाइन कक्षा चलाने वाले भारतीय को ब्रिटिश पीएम ने किया सम्मानित

सरकार के मंत्री या पदाधिकारी वहां क्यों नहीं जा रहे हैं? अभी तक की खबरों के अनुसार कोई भी मंत्री या वरीय पदाधिकारी न तो नालंदा अस्पताल, न पीएमसीएच और न ही आईजीएमएस में अपने कोराना संक्रमण के इलाज के लिए दाखिल हुआ है. समाचारों के अनुसार आईजीएमएस के डायरेक्टर साहब भी अपने इलाज के लिए एम्स में ही दाखिल हैं.’

  असम में कोरोना वायरस से हुई अब तक 219 लोगों की मौत

तिवारी ने कहा, ‘ अब स्वास्थ्य मंत्रीजी ही बताएं कि अगर उन्होंने सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था 15 वर्ष के शासनकाल में इतनी सशक्त और कुशल बना दी है तो बड़े लोग अपनी सरकार (Government) के अस्पतालों पर भरोसा क्यों नहीं कर रहे हैं?’

Please share this news