लॉ छात्रा की मौत के मामले में दो महीने में जांच पूरी करे राजस्थान पुलिस : सुप्रीम कोर्ट


नई दिल्ली (New Delhi) . नैशनल लॉ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट की जोधपुर में हुई मौत के मामले की जांच पूरा करने के लिए दो महीने का वक्त दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने राजस्थान (Rajasthan) पुलिस (Police) को निर्देश देकर कहा कि वह मामले की छानबीन दो महीने में पूरी करे. सुप्रीमकोर्ट के जस्टिस रोहिंटन नरीमन की अगुवाई वाली बेंच में मृतक स्टूडेंट की मां ने अर्जी दाखिल कर मामले की छानबीन CBI के हवाले करने की मांग की है. इसी अर्जी पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने उक्त आदेश पारित किया है.

बुधवार (Wednesday) को मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने राजस्थान (Rajasthan) पुलिस (Police) की खिंचाई कर कहा कि राज्य पुलिस (Police) ने अभी तक हाई कोर्ट के आदेश के मुताबिक छानबीन पूरी नहीं की है. अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने कहा है कि छानबीन दो महीने में पूरी की जाए. अदालत मामले की सुनवाई दो महीने बाद करेगी. 9 जून को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने याचिका पर CBI और राजस्थान (Rajasthan) सरकार (Government) को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने को कहा था जिसमें याचिकाकर्ता ने स्टूडेंट की मौत के मामले की जांच CBI को ट्रांसफर करने की गुहार लगाई है.

ये घटना अगस्त 2017 की है. याचिकाकर्ता की ओर से केस क्राइम ब्रांच से लेकर CBI को देने की गुहार लगाई है साथ ही कहा गया है कि बेटे की रहस्यमय स्थिति में हुई मौत के मामले में 10 महीने बाद केस दर्ज किया गया. याचिका में कहा गया है कि तीन साल बीतने के बावजूद अभी तक कोई चार्जशीट दाखिल नहीं की गई. छानबीन की कोशिश नहीं हुई और मामला यूं भी पड़ा हुआ है. याचिका में कहा गया है कि 13 अगस्त 2017 को छात्र (student) अपने यूनिवर्सिटी कैंपस से 300 मीटर की दूरी पर रेस्टोरेंट में गया था. उसके साथ दोस्त भी थे लेकिन वह लौटकर नहीं आया.

Please share this news