रंगभेद के खिलाफ घुटनों पर बैठकर क्रिकेटर और अंपायरों ने जताया समर्थन


साउथैम्पटन . कोविड-19 (Covid-19) वैश्विक महामारी (Epidemic) के कारण 116 दिनों बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आगाज बुधवार (Wednesday) को हुआ. इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट की सीरीज का पहला मैच में शुरू हुआ. हालांकि, बारिश से प्रभावित मैच तीन घंटे की देरी से शुरू हो पाया. मैच की शुरुआत में रंगभेद को लेकर अलग ही नजारा मैदान पर दिखाई दिया. दोनों टीमों के खिलाड़ी और अंपायर घुटने के बल बैठे थे. उनका संदेश था- ब्लैक लाइव्स मैटर मूवमेंट को समर्थन. हाल ही में अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस (Police) कस्टडी में मौत के बाद दुनियाभर में रंगभेद के खिलाफ विरोध शुरू हुआ. इसके बाद खेल जगत के सभी खिलाडिय़ों ने इस आंदोलन को अपना समर्थन दिया. कई खिलाडिय़ों ने रंगभेद को लेकर बयान भी जारी किए थे.

इंग्लैंड का पहला विकेट गिरा

साउथैम्पटन के रोज बाउल स्टेडियम में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. बारिश और खराब रोशनी के कारण 3 घंटे की देरी से टॉस हो सका था. मैच के दूसरे ही ओवर में इंग्लैंड ने पहला विकेट गंवा दिया. फिलहाल, रोरी बन्र्स और जो डेनली नाबाद है. डॉम सिबली खाता खोले बिना ही पैवेलियन लौट गए. उनका विकेट शेनन गेब्रियल को मिला. गेब्रियल ने दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर सिबली को बोल्ड किया. इस समय इंग्लैंड का स्कोर शून्य था.

Please share this news