यूपी में अलग-अलग मार्ग दुर्घटनाओं में छह प्रवासी मजदूरों की मौत, 95 अन्य घायल


लखनऊ (Lucknow) . उप्र के विभिन्न जिलों में देष के अन्य प्रांतों से पलायन कर वापस लौट रहे मजदूरों की मुसीबतें और बढ़ गयी हैं. राज्य के बाराबंकी, जालौन, महोबा और बहराइच जिलों में अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में छह प्रवासी मजदूरों की मौत हो गयी जबकि 95 अन्य घायल हो गये.

प्राप्त विवरण के मुताबिक बाराबंकी में थाना कोतवाली क्षेत्र के सूरत (Surat) से वापस बहराइच लौट रहे मजदूर लखनऊ (Lucknow)-अयोध्या नेशनल हाईवे पर स्थित बड़ेल स्थित भाजपा कार्यालय के सामने शुक्रवार (Friday) सुबह वाहन का इंतजार कर रहे थे. तभी एक ट्रक रौंदते हुए निकल गया. इस हादसे में तीन श्रमिकों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. मरने वालों में दो सगे भाई व उनके चाचा है. पुलिस (Police) ने बताया नगर कोतवाली क्षेत्र में लखनऊ (Lucknow)-अयोध्या हाइवे पर बड़ेल स्थित भाजपा कार्यालय के सामने वाहन के इंतजार में खड़े सात श्रमिकों को लखनऊ (Lucknow) की ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने रौंद दिया. हादसे में शिशुपाल (32) उसके छोटे भाई जितेंद्र (30) तथा चाचा मोहन (40) की मौत हो गई जबकि पांच घायल हुए. ट्रक चालक मौके से फरार हो गया.

  राहुल के वीडियो को मायावती ने बताया नाटक

वहीं जालौन जिले के पुलिस (Police) अधीक्षक सतीश कुमार ने बताया कि गुरूवार रात थाना एट के गिर थान के पास पहुंचा कि पीछे डीसीएम मेटाडोर को ट्रक ने टक्कर मार दी और डीसीएम गहरे खड्डे में जा गिरी जिससे दो लोगों की घटनास्थल पर मौत हो गई. यह डीसीएम चार दिन पहले मुंबई (Mumbai) से चली थी और 46 लोगो को लेकर उप्र आ रही थी. मरने वालो में सुंदरी नामक महिला और शेर बहादुर नामक पुरूष शामिल है. चालीस प्रवासी मजदूरों को घायलवस्था में उरई मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है.

इसी तरह बहराइच जिले में हुई जहां मुंबई (Mumbai) से मजदूरों को लेकर आ रही डीसीएम मेटाडोर शुक्रवार (Friday) सुबह लखनऊ (Lucknow)-बहराइच राजमार्ग पर अनियंत्रित होकर पलट जाने से सवार एक मजदूर की अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी तथा 31 अन्य मजदूर घायल हो गए. अपर पुलिस (Police) अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने बताया कि शुक्रवार (Friday) सुबह लखनऊ (Lucknow) बहराइच राजमार्ग पर स्थित थाना फखरपुर अंतर्गत मदनकोठी के निकट महाराष्ट्र (Maharashtra) से मजदूरों को लेकर आ रही डीसीएम मेटाडोर अनियंत्रित होकर बिजली के खंभे से टकराकर बगल में पेड़ से टकरा गई. जिसके फलस्वरूप डीसीएम में सवार यात्रियों (Passengers) में से 31 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. पुलिस (Police) ने सभी घायलों को सदर अस्पताल पहुँचाया. अस्पताल में इलाज के दौरान बहराइच जिले के थाना रिसिया अंतर्गत हुसैनपुर निवासी गुलाम जिलानी (28) की मृत्यु हो गयी. एएसपी ने बताया कि सभी घायल बहराइच जिले के निवासी बतलाए जा रहे हैं.

  केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने 1 अप्रैल से 21 मई तक जारी किया 26,242 करोड़ का रिफंड

उधर, महोबा जिले में पनवाड़ी कस्बे के पास प्रवासी मजदूरों से भरा एक ट्रक शुक्रवार (Friday) तड़के पलट गया, जिससे उसमें सवार 20 मजदूर घायल हो गए हैं. ट्रक प्रवासी मजदूरों को गुजरात से लेकर छत्तीसगढ़ जा रहा था, तभी अचानक चालक को झपकी लग गयी और यह हादसा हो गया है. नगर पुलिस (Police) उपाधीक्षक (सीओ) जटाशंकर राव ने बताया कि शुक्रवार (Friday) तड़के ढाई-तीन बजे के बीच करीब 70-80 प्रवासी मजदूरों को गुजरात से लेकर छत्तीसगढ़ जा रहा एक ट्रक पनवाड़ी कस्बे में झांसी-मिर्जापुर राजमार्ग में हनुमान मंदिर के पास पलट गया, जिससे उसमें सवार 20 मजदूर घायल हो गए हैं. उन्होंने बताया कि ष्पनवाड़ी पुलिस (Police) ने इलाज के लिए घायलों को पनवाड़ी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) में भर्ती करवाया है.

Please share this news