Monday , 28 September 2020

महबूबा मुफ्ती की रिहाई के लिये यह सही समय – राहुल गांधी


नई दिल्ली (New Delhi) . कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) महबूबा मुफ्तीकी रिहाई की मांग करते हुए कहा है कि सरकार (Government) ने जब – जब अवैध रूप से नेताओं को हिरासत में रखा, भारतीय लोकतंत्र को नुकसान पहुंचा. राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा कि महबूबा मुफ्ती की रिहाई के लिये यह सही समय है.’

इससे पहले वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर मुफ्ती की रिहाई की मांग की. चिदंबरम ने ट्वीट में लिखा, ‘लोक सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत महबूबा मुफ्ती की नजरबंदी का विस्तार करना, कानून का दुरुपयोग है और ये प्रत्येक नागरिक को संवैधानिक अधिकारों को मिलने वाली गारंटी पर हमला है. 61 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री, चौबीसों घंटे सुरक्षा गार्ड के तहत एक संरक्षित व्यक्ति, सार्वजनिक सुरक्षा के लिए खतरा कैसे है?’

ज्ञात रहे कि पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता महबूबा मुफ्ती अनुच्छेद 370 के तहत मिले जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे के खत्म होने और राज्य के दो केंद्र शासित प्रदेशों, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, में विभाजित होने के बाद से ही लोक सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत हिरासत में हैं. जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पिछले हफ्ते पीएसए के तहत महबूबा मुफ्ती की हिरासत को तीन और महीनों के लिये बढ़ा दिया है.

Please share this news