ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत, 8 जून से खुलेंगे सभी संस्थान


बांकुरा ). कोरोना (Corona virus) के बढ़ते संक्रमण के कारण देश में लॉकडाउन (Lockdown) का चौथा चरण जारी है, जिसकी मियाद 31 मई को खत्म हो रही है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान कई तरह की पाबंदियां लगी हुई हैं. इस बीच पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी ने एक जून से राज्य के सभी धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत दे दी है. हालांकि इस दौरान लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. ममता बनर्जी ने कहा है कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) में एक जून से धार्मिक स्थल खोले जा सकते हैं, लेकिन बड़े धार्मिक आयोजन की इजाजत नहीं होगी. उन्होंने कहा है कि सभी धार्मिक स्थल जैसे कि मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे एक जून से खोले जाएंगे, लेकिन यहां एकबार में 10 से अधिक लोगों को इजाजत नहीं दी जाएगी.

  अब सार्वजनिक स्थलों पर थूंकने पर जुर्माने के साथ लगेगा जीएसटी!

ममता बोलीं- श्रमिक स्पेशल ट्रेन के नाम पर रेलवे (Railway)चला रही ‘कोरोना एक्सप्रेस’

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी ने राज्य में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को जिम्मेदार ठहराया है. ममता बनर्जी ने शुक्रवार (Friday) को कहा कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) पिछले दो महीने में कोविड-19 (Covid-19) को फैलने से रोकने में सफल रहा था, लेकिन अब मामले इसलिए बढ़ रहे हैं, क्योंकि बाहर से लोग लौट रहे हैं. उन्होंने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस बताया. पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि रेलवे (Railway)हजारों प्रवासी श्रमिकों को एक ही ट्रेन में भेज रहा है, अधिक ट्रेनें क्यों नहीं दी जा रही हैं? उन्होंने कहा कि रेलवे (Railway)श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के नाम पर कोरोना एक्सप्रेस चला रही है.

Please share this news