बिहार में पूरी ताकत से चुनाव लड़ने की तैयारी में भाजपा


नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय जनता पार्टी और केंद्र सरकार (Government) बिहार (Bihar)विधानसभा का चुनाव पूरी ताकत के साथ लड़ने की तैयारी में जुट गई है. लोकसभा (Lok Sabha) चुनाव के बाद यह माना जा रहा था, कि भारतीय जनता पार्टी एक बड़ी ताकत के रूप में उभरी है. किंतु इसके बाद हुए महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा (Haryana) (Haryana) , दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान (Rajasthan), छत्तीसगढ़,महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा चुनाव के नतीजे भाजपा के लिए अच्छे नहीं रहे. लोकसभा (Lok Sabha) चुनाव के कुछ माह पश्चात हुए विधानसभा के चुनावों में भाजपा को कई राज्यों में करारी हार का सामना करना पड़ा.

  स्टेट बैंक सहित पांच बैंकों की हिस्सेदारी बेचने की तैयारी में केंद्र सरकार, रिजर्व बैंक ने दिया प्रस्ताव

हरियाणा (Haryana) (Haryana) में किसी तरीके से दुष्यंत चौटाला की मदद से सरकार (Government) बन गई. कर्नाटक (Karnataka) और मध्य प्रदेश में जिस जोड़-तोड़ के साथ सरकार (Government) बनाई गई है, उसके अच्छे परिणाम देखने को नहीं मिल रहे हैं.पिछले 3 माह में कोरोना संक्रमण के दौरान मजदूरों का पलायन तथा चीन के सीमा विवाद को लेकर भाजपा और केंद्र सरकार (Government) के खिलाफ एक नया वातावरण बनना शुरू हुआ है. पेट्रोल (Petrol) डीजल की बढ़ती कीमतों ने भी सरकार (Government) की परेशानियां बढ़ाई हैं. बिहार (Bihar)विधानसभा चुनाव के बाद पांच अन्य राज्यों में चुनाव होना है.ऐसी स्थिति में भारतीय जनता पार्टी साम दाम दंड भेद किसी भी तरीके से बिहार (Bihar)विधानसभा का चुनाव स्पष्ट बहुमत से जीतने की तैयारी कर रही है.

  Ram Mandir Bhumi Poojan : राम के काज में शामिल हुई बांसवाड़ा के चित्रकार आशीष की रंगोली

महाराष्ट्र (Maharashtra) में शिवसेना को लेकर जो नुकसान हुआ है उसे बिहार (Bihar)में नहीं दोहराया जाएगा बिहार (Bihar)में राष्ट्रीय जनता दल में तोड़फोड़ कराने तथा तेजस्वी को लेकर राजद में जो विद्रोह हुआ है. उससे भाजपा उत्साहित है. नीतीश कुमार के मुकाबले तेजस्वी यादव नोसिखिए साबित हो रहे हैं. विपक्ष भी पूरी तरह से बिखरा हुआ है. ऐसी स्थिति में भाजपा, बिहार (Bihar)विधानसभा के चुनाव में अपनी पूरी ताकत लगाकर नीतीश कुमार के नेतृत्व में दो तिहाई बहुमत से चुनाव जीतने की तैयारी कर रही है.इसमें कितनी सफलता उसे मिलेगी, कहना मुश्किल है. वर्तमान हालात में अभी भी पलडॉ भाजपा और नीतीश कुमार का ही भारी है.

Please share this news