पहली बार इसरो की प्रदर्शनी : विजन कॉलेज के विद्यार्थी बोलचाल की भाषा में समझा रहे अंतरिक्ष विज्ञान की सफलता

चित्तौड़गढ़. जिले के विद्यार्थियों सहित अन्य लोगों को पहली बार आर्य भट्ट से लेकर मंगलयान तक इसरो के विज्ञान सफर से रूबरू होने का मौका मिला है. इसके लिए इसरो के वैज्ञानिकों ने शहर के एक प्राइवेट कॉलेज स्टूडेंट्स को इस तरह ट्रेंड किया कि किया कि वे बोलचाल की भाषा से बच्चों एवं अभिभावकों को अंतरिक्ष से लेकर भू-गर्भ तक में सैटेलाइट उपयोग काे आसानी से समझा पा रहे हैं.

उदयपुर (Udaipur) रोड स्थित नीरजा मोदी स्कूल एवं विजन कॉलेज के तत्वावधान में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की प्रदर्शनी का शुभारंभ गुरुवार (Thursday) काे कलेक्टर (Collector) इंद्रजीत सिंह, डीआईजी प्रसन्न कुमार खमेसरा, विधायक चंद्रभान सिंह आक्या, नगर सभापति सुशील शर्मा ने किया. संस्थान के वित्त सचिव अमित अग्रवाल एवं निदेशक प्रशांत बाजपेई ने स्वागत करते हुए प्रदर्शनी का मकसद बताया. पहले दिन सुबह से शाम तक करीब 20 स्कूलों के एक हजार से अधिक विद्यार्थियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर अंतरिक्ष में विज्ञान के कदम समझे. वैज्ञानिकों ने सवालों के जवाब दिया.

The post पहली बार इसरो की प्रदर्शनी : विजन कॉलेज के विद्यार्थी बोलचाल की भाषा में समझा रहे अंतरिक्ष विज्ञान की सफलता appeared first on .

Please share this news