पति व दो बेटे नहीं दे पाए अंतिम विदाई हादसे में घायल छोटा पुत्र भी वेंटीलेंटर पर

चित्तौड़गढ़. अजमेर जिले में शनिवार (Saturday) रात हुए हादसे में मृतक महिला का सोमवार (Monday) को यहां गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया. उनके पति सहित दो पुत्र अजमेर अस्पताल में उपचाररत होने से अंतिम संस्कार में भाग नहीं ले पाए. इनमें से छोटा पुत्र तो वेंटीलेटर पर है.

कुमावतों का मोहल्ला निवासी जगदीशचंद्र सोनी का परिवार शनिवार (Saturday) रात अजमेर जिले में नसीराबाद व श्रीनगर (Srinagar) के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. जगदीश की पत्नी केसरदेवी व उनके समधी की मौके पर ही मौत हो गई थी. पुत्र संजय व राजकुमार, पुत्रवधू रेणुका सहित रेणुका के माता-पिता व अन्य मामा भी चोटिल हुए. ये लोग मेहंदीपुर बालाजी के दर्शन कर एक कार से लौट रहे थे. शनिवार (Saturday) देर रात बाद बस ने कार को टक्कर मार दी थी. केसरदेवी का शव रविवार (Sunday) रात यहां आवास पर पहुंचा तो मोहल्ले में रूदन फुट पड़ा. सोमवार (Monday) सुबह सिटी मोक्षधाम पर बड़े पुत्र कैलाश ने चिता को मुखाग्नि दी. इस बीच अजमेर के निजी अस्पताल में भर्ती जगदीश सोनी की हालत में कुछ सुधार हुआ है, लेकिन दोनों पुत्रों संजय व राजू की हालत गंभीर है. छोटा पुत्र राजकुमार तो वेंटीलेटर पर है.

The post पति व दो बेटे नहीं दे पाए अंतिम विदाई हादसे में घायल छोटा पुत्र भी वेंटीलेंटर पर appeared first on .

Please share this news