चोरी, लूट की वारदात रोजनामचे से गायब, लॉकडाउन में घट गया अपराधों का ग्राफ


जबलपुर, . कोरोना संक्रमण फैलने की वजह से शहर में लगाये गये लॉकडाउन (Lockdown) के कारण सडक़ों पर घटी आवाजाही से वारदातों में कमी आई है. ऐसा लग रहा है कि शहरबंदी ने अपराधों का भी लॉकडाउन (Lockdown) कर दिया है. राष्ट्रीय राजमार्गों पर होने वाले हादसों में लॉकडाउन (Lockdown) की 20 दिनों की अवधि में काफी कमी आई है.

  पीएम मोदी ने पुतिन को दी 2036 तक रूस का राष्ट्रपति बनने की बधाई

हाईवे पर बड़े हादसे नहीं हो रहे हैं वहीं छोटे-मोटे हादसे की सूचना ही मिलती है. जिला पुलिस (Police) के आंकड़ों में लॉकडाउन (Lockdown) की अवधि में सडक़ हादसों में 80-90 फीसदी की कमी आई है. इसके अलावा चोरी, लूट की वारदातें न के बराबर रही वहीं शराब तस्करी के कुछ मामले जरूर सामने आये हैं. शहर में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान गंभीर अपराध का मामला दर्ज नहीं हुआ. इसकी वजह लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोगों का ज्यादातर समय घरों में ही बीत रहा है. जिसके कारण सूने घरों को निशाना बनाने वाले अपराधियों के हौसले भी पस्त पड़ गये हैं. शहर के थानों में मौजूद पुलिस (Police) रोजनामचा में चोरी की घटनाओं में कमी आई है. मुख्यमार्गों पर भारी वाहनों की धमाचौकड़ी पर काफी हद तक लमाग लगने से दुर्घटनाओं पर लगभग विराम लग गया है.

Please share this news