गंभीरी बांध में नौ फीट पानी की आवक

चित्तौड़गढ़, 21 जुलाई (उदयपुर (Udaipur) किरण). शहर में शनिवार (Saturday) को पूरे दिन बादल छाए रहने व उमस के बावजूद लोगों को बरसात का इंतजार करना पड़ गया. कुछ देर के लिए मामूली बूंदाबांदी से ही संतोष करना पड़ गया. इसके विपरित जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में मेघ मेहरबान रहे हैं. गांवों में जमकर बरसात हुई है. इससे किसानों के चेहरे खिल उठे हैं. जिले के कई जलाशयों में पानी की आवक जारी है. जिले में कुछ दिनों से सक्रिय हुए मानसून की रफ्तार थोड़ी धीमी हो गई है.

जिला मुख्यालय पर शनिवार (Saturday) सुबह निकली तल्ख धूप से उमस से लोग परेशान रहे. वहीं दिन के समय में सावा, शंभूपुरा, बस्सी, बिजयपुर (jaipur), मंडफिया सहित कई क्षेत्रों में तेज बरसात की सूचना है. इस मानसून सत्र में देरी से और कम हुई बरसात के बावजूद जिले के जलाशयों में पानी की आवक शुरू हो गई है. जिले के सबसे बड़े गंभीरी बांध में 9 फीट पानी की आवक हुई है. वहीं ओराई और बस्सी बांध में भी पानी की आवक हुई है. ब्राह्मणी और अन्य नदियों में पानी का बहाव शुरू हुआ है, वहीं पर्यटन स्थल चित्तौड़ दुर्ग, मेनाल और नीलिया महादेव का झरना भी तेजी से बहने लगा है.

Please share this news