कोरोना संकट के बीच दिल्ली हाईकोर्ट से आप सरकार को झटका


नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना संकट के बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार (Tuesday) को आम आदमी पार्टी आप सरकार (Government) को एक बड़ा झटका देते हुए हाल ही में दिल्ली सरकार (Government) द्वारा राजधानी के निजी अस्पतालों में 80 प्रतिशत आईसीयू बेड्स कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित करने के आदेश पर अगली सुनवाई तक के लिए रोक लगा दी है. जानकारी के अनुसार, हाईकोर्ट ने सरकार (Government) के उस आदेश पर रोक लगा दी, जिसमें 33 बड़े निजी अस्पतालों को निर्देश दिया गया था कि वे कोविड-19 (Covid-19) मरीजों के लिए 80 प्रतिशत आईसीयू बेड आरक्षित करें.

कोर्ट ने कहा कि यह निर्णय मनमाना और अनुचित प्रतीत होता है. कोर्ट इस मामले में अब 16 अक्टूबर को आगे की सुनवाई करेगी. जस्टिस नवीन चावला ने कहा कि प्रथमदृष्टया दिल्ली सरकार (Government) का 13 सितंबर का आदेश संविधान के तहत गारंटिड नागरिकों के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन, मनमाना और अनुचित है. कोर्ट ने कोविड-19 (Covid-19) मरीजों के लिए 80 फीसदी आईसीयू बेड आरक्षित करने के आदेश को रद्द करने के लिए ‘एसोसिएशन ऑफ हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स’ की याचिका पर दिल्ली सरकार (Government) और केंद्र से जवाब मांगा है. बता दें कि, दिल्ली में एक बार फिर तेजी से बढ़ते कोरोना (Corona virus) के मामलों के बीच बीते दिनों मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल ने एक समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को अस्पतालों में आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाने और संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए थे.

इसके लिए उन्होंने सभी निजी अस्पतालों में 80% आईसीयू बेड्स कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित करने का निर्देश दिया था. मुख्यमंत्री (Chief Minister) के साथ हुई बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव विजय देव, वरिष्ठ अधिकारी और दिल्ली सरकार (Government) द्वारा संचालित अस्पतालों के चिकित्सा अधीक्षक मौजूद थे. राजाधानी दिल्ली में फिर तेजी से पैर पसार रहे कोरोना (Corona virus) संक्रमण के 2,548 नए मामले सामने आने के बाद शहर में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 2,49,259 तक पहुंच गई है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से सोमवार (Monday) को जारी किए गए हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) के 32 और मरीजों के मौत के बाद मृतक संख्या 5,014 हो गई. उन्होंने कहा कि 33,733 नमूनों की जांच में से पिछले दिन की तुलना में अपेक्षाकृत नए मामलों की संख्या कम रही. विभाग ने कहा कि दिल्ली में 30,941 मरीजों का इलाज जारी है.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *