कोरोना ने दिल्ली सचिवालय में भी दी दस्तक, सामान्य प्रशासन विभाग सील


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना के कहर से कोई जगह पूरी तरह सुरक्षित नहीं है. उप-राज्यपाल कार्यालय के बाद कोरोना का यह संक्रमण अब दिल्ली सचिवालय तक पहुंच गया है. सचिवालय के एक कर्मचारी में कोविड-19 (Covid-19) वायरस की पुष्टि होने के बाद सामान्य प्रशासन विभाग को सैनिटाइजेशन के लिए सील कर दिया. हालांकि, अब से कुछ देर पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि उनकी सरकार (Government) कोरोना (Corona virus) से चार कदम आगे और हालात से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है. लॉकडाउन (Lockdown) आगे बढ़ाया जाए या नहीं इस पर दिल्ली के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल एक महीना या दो महीने और लॉकडाउन (Lockdown) कर लो तो कोरोना ठीक हो जाएगा. कोरोना रहेगा, अगर कोरोना रहेगा तो कोरोना का इलाज करने का इंतजाम करना पड़ेगा. हमारी पूरी सरकार (Government) इस समय कोरोना के मरीजों का इलाज करने पर ध्यान दे रही है.

  गहलोत सरकार गिराने के षड़यंत्र में दो भाजपा नेताओं के नाम, पूछताछ के बाद हिरासत में

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में वृद्धि देखी जा रही है, हम इसे स्वीकार करते हैं, लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि ‘आप’ की सरकार (Government) कोरोना (Corona virus) से चार कदम आगे है. हम इस महामारी (Epidemic) से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. हम स्थायी लॉकडाउन (Lockdown) नहीं कर सकते. कोरोना (Corona virus) पर दिल्ली सरकार (Government) की तैयारियों की चर्चा करते हुए केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के कुल 17386 केस हैं. उसमें से 7846 लोग ठीक हो गए हैं और 9142 लोग अभी भी बीमार हैं. इनमें से 398 लोगों की मौत हो चुकी हैं.

  बदलापुर में मिले 76 कोरोना पॉजिटिव मरीज, आंकड़ा 1352

उन्होंने बताया कि दिल्ली में बीते 15 दिन में 8,500 मरीज़ बढ़े हैं, लेकिन अस्पतालों में सिर्फ 500 मरीज ही भर्ती हुए हैं. ज्यादातर लोगों को हल्के लक्षण हैं और वो घर पर होम आइसोलेशन में रहकर ही ठीक हो रहे हैं. किसी को भी घबराने की कोई जरूरत नहीं है. कुल मरीजों में से केवल 2100 अस्पतालों में हैं, बाकी का उनके घरों में ही इलाज चल रहा है. कोरोना के इलाज के 6500 बिस्तर अब तक तैयार हैं और 9500 बिस्तर एक और हफ्ते में तैयार हो जाएंगे. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि हम एक ऐसा ऐप लॉन्च कर रहे हैं, जिससे सभी लोगों को कोरोना से संबंधित किस अस्पताल में कितने बेड हैं इसकी सही जानकारियां मिलेंगी ताकि किसी को कोई असुविधा न हो.

इसके साथ ही केजरीवाल ने अप्रत्यक्ष रूप से विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि कृपया गंदी राजनीति न करें. फर्जी वीडियो या जानकारियां फैलाने से हमारे डॉक्टरों (Doctors) का मनोबल टूटता है और जनता में भ्रम पैदा होता. ऐसे समय में ये सब करना ठीक नहीं. गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में भयावह रूप लेते जा रहे कोरोना (Corona virus) ने अब दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में भी दस्तक दे दी है. उपराज्यपाल कार्यालय के तीन और कर्मचारियों को गुरुवार (Thursday) को कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित पाया गया था. एक दिन पहले एक जूनियर सहायक को कोरोना (Corona virus) से संक्रमित पाया गया था. अभी तक उपराज्यपाल सचिवालय में कोरोना (Corona virus) संक्रमण के चार मामले सामने आ चुके हैं. सूत्र ने बताया कि गुरुवार (Thursday) को दो जूनियर सहायकों और एक सफाई कर्मी को कोविड-19 (Covid-19) से संक्रमित पाया गया.

Please share this news