एक माह में 1,60,000 से अधिक बढ़े कोरोना वायरस संक्रमित मरीज, मौतों की संख्या 4,354 बढ़ी


नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना (Corona virus) संक्रमण के मामले में अब भारत दुनिया में सातवें स्थान पर पहुंच गया है. बीते एक माह के दौरान 1,60,000 से अधिक नए कोरोनावायरस संक्रमण के मामले सामने आए. 1 मई को संक्रमित मरीजों की संख्या 37,257 थी जो 1 जून को रात 10 बजे तक 1,97,264 पहुंच गई है. इस प्रकार संक्रमण के मामले में 5 गुना (guna) से अधिक वृद्धि एक माह के दौरान हुई है. मौतों की संख्या 1 मई को 1223 थी जो 1 जून को बढ़कर 5,577 हो गई है. लगभग 5 गुना. 1 मई को एक्टिव मामले 5,056 थे जो बढ़कर 1 जून को 97,292 हो गए हैं. इस प्रकार एक्टिव मामलों में 19 गुना (guna) से ज्यादा वृद्धि हुई है.

  राज्यसभा सांसद केसी त्यागी की बहन और बहनोई की सड़क हादसे में मौत

महाराष्ट्र (Maharashtra) में 1 मई तक 11,506 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज मिले थे जो आज बढ़कर 70,013 हो गए हैं. इस प्रकार महाराष्ट्र (Maharashtra) में 6 गुना (guna) से अधिक की वृद्धि हुई है. गुजरात में 1 मई तक कोरोनावायरस संक्रमण के 4,721 मामले सामने आए थे जो 1 जून तक बढ़कर 17,217 हो चुके हैं. इस प्रकार 4 गुना (guna) के करीब वृद्धि हुई है. 1 मई को तमिलनाडु संक्रमण के मामले में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) और राजस्थान (Rajasthan) से नीचे था जो अब दूसरे पायदान पर पहुंच चुका है और यहां पीड़ितों की संख्या बढ़कर 23,495 हो गई है. पिछले एक माह के दौरान महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान (Rajasthan), मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) , उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh), पश्चिम बंगाल (West Bengal) जैसे राज्यों में कोरोना (Corona virus) संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ा है. पूर्वोत्तर के कुछ राज्य भी कोरोनावायरस संक्रमण की चपेट में तेजी से आ रहे हैं.

  रेलवे ने कई ट्रेनों का बदला टाइम टेबल

प्रवासी मजदूरों के पलायन के बाद देश के ग्रामीण क्षेत्र भी कोरोना (Corona virus) संक्रमण की चपेट में आ गए हैं. सबसे बड़ी चिंता देश में सक्रिय मामलों की है, जो 19 गुना (guna) से अधिक बढ़ चुके हैं. अभी भी पूरे देश में लगभग 20 लाख लोग क्वॉरेंटाइन में हैं, जिनकी कोरोना जांच आने वाले समय में करना आवश्यक है. देश में नए मरीज मिलने के साथ ही कंटेंटमेंट क्षेत्र भी लगातार बढ़ रहे हैं. इन क्षेत्रों के निवासियों को पाबंदी का सामना करना पड़ रहा है वहीं इन क्षेत्रों से निकलकर वायरस दूसरे इलाकों में लगातार फैल रहा है. ऐसी स्थिति में देश की स्वास्थ्य सेवाओं के समक्ष चुनौती बढ़ती जा रही है. स्वास्थ्य सेवा और पुलिस (Police) से जुड़े अनेक लोगों के बीच कोरोनावायरस संक्रमण फैल चुका है. सुरक्षाबलों के बीच भी इस वायरस के फैलाव के अनेक मामले सामने आए हैं. ऐसी स्थिति में सरकार (Government) ने लॉक डाउन में करीब-करीब 80% ढील दे दी है.

Please share this news